चंदा मामा के देश मे

चंदा मामा के देश मे
By: No Source Posted On: January 17, 2019 View: 475

चंदा मामा के देश मे

चंदा मामा के देश मे

मुझे रात एकसपना आया, पारियों ने था मुझे जगाया |

वे आयी थी मुझे ले जाने, चंद्रलोक की सैर कराने ||

चंद्रयान में मुझे बैठाया, तुरंत चाँद पर था पहुंचाया |

टिम टिम टिम टिम तारे, बोले चमक रहे थे जैसे ओले ||

आओ आओ गुड़िया रानी, यह है सच नहीं कहानी |

आईसक्रीम का वहा समंदर, चाकलेट हर पेड़ के अंदर ||

टंफिया लटक रही पेड़ो पर, इन सबको ले जाऊँगी घर |

मै पहुँची चंदा मामा के पास, मामा थे वे मेरे खास |

चरखा कात रही थी नानी, खरगोश पी रहा था नीबू पानी ||

चंदा बोले मेरी बच्ची, प्यारी प्यारी अच्छी सच्ची |

बच्चे मुझको लगते प्यारे, मामा के सब राजदुलारे ||

जो है अच्छे उन्हे बुलाता, चंद्रलोक की सैर कराता |

सपनों मेँ आ जाती पारियाँ, बच्चो को ले आती पारियाँ ||

जाओ उनके संग तुम जाओ, नाचो घूमो मौज मनाओ |

पारियों ने तब खूब घुमाया, पूरा चंद्रलोक दिखलाया

चंदा मामा ने दिए उपहार खेल खिलौने लंबी कार ||

Tags:
#chanda mama class 2 poem poem 

  Contact Us
 Poem Poetry for Kids

Uttar Pradesh (India}


Mail : tyaginiraj87@gmail.com
Business Hours : 9:30 - 5:30

  Follow Us
Site Map
Get Site Map
UA-151118390-1