आरती जय संतोषी माता की

आरती जय संतोषी माता की
By: No Source Posted On: July 09, 2020 View: 100

आरती जय संतोषी माता की

आरती जय संतोषी माता की

मै तो आरती उत्तारु रे, संतोषी माता की

जय जय संतोषी माता, जय जय माँ

बड़ी ममता है बड़ा प्यार, माँ की आँखों में  

बड़ी करुणा माया दुलार, माँ की आँखों में

क्यूँ न देखूं मैं बारम्बार, माँ की आँखों में

नृत्य करू झूम-झूम, झम-झमा – झम झूम–झूम

झांकी निहारु रे, ओ प्यारी-2 झांकी निहारु रे |

मै तो आरती उतारू रे, संतोषी माता की |

जय जय संतोषी माता, जय जय माँ

सदा होती है जय जयकार, माँ के मंदिर में

नित झांझर की हो झांझर माँ के मंदिर में

सदा मंजीरे करते पुकार माँ के मंदिर में

दिखे हर घडी नया चमत्कार माँ के मंदिर में

दीप धरु , धुप धरु प्रेम सहित भक्ति करू

जीवन सुधारू रे ओ प्यारा प्यारा जीवन सुधारू रे

मै तो आरती उतारू रे संतोषी माता की |

Tags:
#आरती जय संतोषी माता की   # जय जय संतोषी माता  # बड़ी करुणा माया दुलार  # मै तो आरती उतारू रे  #santoshi mata ji ki aarti  # santoshi mata ki aarti vandana  # santoshi mata ki katha  # toshi mata ki aarti santoshi mata ki aarti  # main to aarti utaru re santoshi mata ki  # santoshi mata ki aarti santoshi mata ki aarti  # anuradha paudwal jai santoshi mata aarti  # jai santoshi maa jai jai santoshi mata  #  

  Contact Us
 Poem Poetry for Kids

Uttar Pradesh (India}


Mail : tyaginiraj87@gmail.com
Business Hours : 9:30 - 5:30

  Follow Us
Site Map
Get Site Map
UA-151118390-1